Loading...

एक मन परमेश्वर की महिमा को प्रगट करता है!

Sharon Dhinakaran
07 Dec
भाई लोग आपस में मिले रहें यह हमें देखना चाहिए। यह आजकल की संस्कृति में बहुत ही कम मात्रा में देखा जाता है। परिवार और चर्चों में एकता गायब हो गई है। परन्तु एक हृदय जो एकता की इच्छा रखता है वह भिन्नता को बढाता चढाता नहीं है। उसके बदले वह एक दूसरे से प्रेम और मैत्रीपूर्ण शांति रखता है। इफिसियों 4:5,6 के अनुसार ‘‘एक ही प्रभु है; और एक ही विश्वास, एक ही बपतिस्मा और सब का एक ही परमेश्वर और पिता है,जो सब के ऊपर और सब के मध्य में और सब में है।’’ आगे वचन कहता है, ‘‘जिससे सारी देह, हर एक जोड की सहायता से एक साथ मिलकर और एक साथ गठकर उस प्रभाव के अनुसार जो हर एक अंग के ठीक-ठीक कार्य करने के द्वारा उसमें होता है, अपने आप को बढाती है कि वह प्रेम में उन्नति करती जाए।’’(इफिसियों 4:16)

कुछ वर्ष पहले, लोस एंजल्स में विशेष ओलिम्पिक्स में प्रतियोगियों की दौड को 50 मीटर की दौड में शुरु करने से पहले एक बंदूक से गोली चलाई। जैसे ही वे दौड की समाप्त बिंदु की ओर दौड रहे थे, एक लडका अपने ट्रेक से बाहर आ गया और वह अपने मित्रों की ओर दौडने लगा जहां पर वे मैदान में खडे थे। मिस्टर केन, कार्यक्रम के प्रबंधक ने अपनी सीटी बजाई जिससे कि लडका ट्रेक पर आ जाए परन्तु सब कुछ व्यर्थ निकला। दूसरे प्रतियोगी ने एक डाउन सिंड्रोम लडकी जिसने मोटा चशमा पहना हुआ था, उसने उसे देखा जो समाप्त बिंदु पर पहुंचनेवाली थी उस लडके को जोर से बुला रही थी, रूक जाओ, वापस आओ, यह रास्ता है। उस लडके ने आवाज सुनी और रूक गया और उसे देखा, वापस आओ, यह रास्ता है। उसने फिर से कहा। वह लडका वहीं पर रूक गया और परेशान हो गया। उसने उसे परेशान देखकर ट्रेक से वह भी बाहर आ गई और उसकी ओर दौडी। उसने उसके साथ अपनी बांहे मिलाई और वे एक साथ ट्रेक की ओर भागे और दौड को पूरी किया। वे उस लाइन को पार करने में आखिरी थे परन्तु भीड में खडे हुए उनके साथी प्रतियोगिताओं ने उन्हें गले लगाकर उनका स्वागत किया। 

एक मन बनाए रखने के लिए यह बहुत ही जरूरी है कि हम अपने जीवन में अपने उद्देश्यों से समय निकालकर दूसरों के मार्ग को जानने के लिए उनकी मदद करें। इस कहानी पर रोशनी देकर मिस्टर केन को 1 थिस्सलुनीकियों 5:11 स्मरण हो आया जो कहता है,‘‘इस कारण एक दूसरे को शांति दो और एक दूसरे की उन्नति का कारण बनो, जैसा कि तुम करते भी हो।’’ परमेश्वर आपको जो धीरज और उत्साहना देता है और जैसे कि आप मसीह यीशु के पीछे चलते हैं आपस में एकता की आत्मा दे। इसलिए आइए हम हर कोशिश करें जिससे कि हम एक मन की अगुवाई करें और उन्नति का कारण बनें। 

Prayer:
प्रिय पिता,

मैं यीशु मसीह आपके पुत्र के नाम में प्रार्थना करती हूं कि आप हमारे विभाजन के लिए हमें क्षमा करें। हमारे परिवार, चर्च, देश और हमारे कार्यस्थल में एकता की आत्मा दें। हमारे हृदयों में सभी भिन्नता से मुक्त होने में हमारी मदद करें जिससे कि हम इकट्ठे एक वासस्थान बनाए जिसमें परमेश्वर राज्य करता है। हम में से चिढानेवाली आत्मा, दोष लगानेवाली आत्मा और न्याय आंकनेवाली आत्मा को निकालने में हमारी मदद करें जो फूट डालती है। हमारे रिश्ते और संबंध को पुन: स्थापित करें और हमारे घरों को चंगा करें, हमें धीरज दें, और हमें एक मन दें। यीशु के नाम में, मैं प्रार्थना करती हूं,

आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000