Loading...
Stella dhinakaran

परमेश्वर का उद्धार!

Sis. Stella Dhinakaran
12 Jun
इस संसार में हमारे जीवन के बारे में जब यीशु समझा रहे थे, ‘‘संसार में तुम्हें क्लेश होता है, परन्तु ढाढस बांधो, मैं ने संसार को जीत लिया है।’’ (यूहन्ना 16:33) इस भयानक और बुरे संसार में हम अपने बल और योग्यताओं पर निर्भर होकर अपना जीवन बिल्कुल भी नहीं बिता सकते हैं। परन्तु इस संसार में प्रभु यीशु मसीह केवल हमारे सब पापों से हमें छुटकारा देने ही आए खासतौर से हमारी दुर्बलताओं और निराशाओं से हमें स्वतंत्रता दे।  इसलिए प्रिय पाठकों, प्रभु यीशु के चरणों को दृढता से पकड लें। तब वह आपका बल और उद्धार बन जाएगा। वह जगत के अंत तक सदा आपके साथ रहेगा। (मत्ती 28:20) आप इस संसार में अकेले नहीं हैं। आप को प्रेम का अनुभव न होगा परन्तु सत्य यह है कि परमेश्वर आप से प्रेम करता है और जब आप उस पर अपनी आशा रखेंगे तो वह शीघ्र ही आपको बचाने आ जाएगा। 

एक नौजवान ने अपने माता पिता दोनों को खो दिया और एक अनाथ हो गया और आंसुओं में अपना जीवन व्यतीत करने लगा। वह अपनी बडी चिंता के कारण परेशान हो गया कि वह कहां जाए और किस तरफ फिरे। इसलिए वह एक खुले हुए चर्च के अंदर चला गया, उसने घुटने टेके और प्रभु के हाथों में अपना जीवन सौंपा। उस चर्च के पासवान उसकी ओर ध्यान से देख रहे थे। जब वह प्रार्थना करने के बाद उठा तो पासवान उसके पास आया और उससे बात की और इस नौजवान ने अपनी दुखभरी कहानी पासवान को सुना दी। इसलिए पासवान ने उसे चर्च के काम में सहायक होने को कहा क्योंकि उसे एक अच्छे काम की तलाश थी। उस नौजवान ने खुशी खुशी उस प्रस्ताव को स्वीकार किया और उसने कहा, प्रभु ने खुद मेरे लिए एक द्वार खोला है। उसके बाद वह चर्च के आंगन में रहने लगा और पासवान की सहायता करने लगा। उस पासवान के द्वारा प्रभु के गहरे कार्यों को सिखना शुरु किया और उस सत्य का अनुभव करना शुरु किया कि प्रभु उसका बल और उद्धार है। उसने अपनी कहानी को उन खेदिन मनवालों के साथ जो चर्च में आया करते थे उन्हें एक गवाही के रूप में बांटना शुरु किया।
हां,परमेश्वर जीवनों को बदल सकता है। परमेश्वर परिस्थितियां बदल सकता है। क्या आप अपने संकटमय स्थिति से बचना चाहते हैं? परमेश्वर कहता है, ‘‘मत डर, क्योंकि मैं तेरे संग हूं। इधर उधर मत ताक क्योंकि मैं तेरा परमेश्वर हूं; मैं तुझे दृढ करूंगा और तेरी सहायता करूंगा, अपने धर्ममय दाहिने हाथ से मैं तुझे सम्भाले रहूंगा।’’ (यशायाह 41:10) परमेश्वर आपके हृदय को बदल डालेंगे और आपके लिए हर एक चीज पर कृपादृष्टि करूंगा। वह कहता है, ‘‘मैं तुम्हें एक नया मन दूंगा और तुम्हारे भीतर एक नई आत्मा उत्पन्न करूंगा, और तुम्हारे देह में से पत्थर का हृदय निकालकर तुम को मांस का हृदय दूंगा।’’ (यहेजकेल 36:26) जब परमेश्वर आपको एक नया व्यक्ति बनाएंगे, जैसे परमेश्वर चाहता है उसी मार्ग पर अपना जीवन व्यतीत करेंगे, तब आपके जीवन में आशीषें आएंगी। यह केवल परमेश्वर के हस्तक्षेप से निश्चित है। बाइबल कहती है, ‘‘मनुष्य की गति यहोवा की ओर से दृढ होती है, और उसके चाल चलन से वह प्रसन्न रहता है।’’ (भजन संहिता 37:23) यही सत्य है। परमेश्वर केवल उन्हीं लोगों की गति को दृढ कर सकता है जिन्होंने अपना जीवन उसे समर्पित किया है और उसकी आवाज पर कान लगाते हैं। वह उनके जीवनों के हर विवरण की देखभाल करता है। आपको केवल एक ही कार्य करना है कि आप यीशु अपना हृदय दें और उस पर पूरी तरह से भरोसा रखें। जब आप उस पर अपना मन लगाए रहेंगे, तो वह आपकी हर चिंता को आप से बचाकर रखेगा। वह आपको निश्चय बचाएगा।
Prayer:
प्रेमी प्रभु यीशु,

मेरे पत्थर रूपी हृदय को निकाल दें और मुझे मांस भरा हृदय दें। मेरा हृदय आपके वचन को प्राप्त करता रहे। मेरे साथ सदा रहें और मुझे एक ऐसा जीवन देने की मदद करें जो आपको समर्पण करे। मैं आपकी दृष्टि के सामने भयभक्ति से रहूं। मेरे जीवन के हर विवरणों की देखभाल करें। मैं चाहती हूं कि मेरी सभी परिस्थितियों के आप विश्वास के कर्त्ता और सिद्ध करनेवाले यीशु बनें। मैं अपने जीवन का सारा नियंत्रण आपको देती हूं। मेरे द्वारा आपके नाम की महिमा हो। आपके अतुलनीय नाम में, मैं प्रार्थना करती हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000