Loading...
Stella dhinakaran

मार्गदर्शक ज्योति

Sis. Stella Dhinakaran
24 Jan
उन दिनों में यातायात की सुविधा न होने के कारण एक बार एक पुरूष और उसका परिवार, एक गांव से दूसरे गांव तक पैदल चलकर जाया करते थे। रास्ते में उन्हें एक घोर जंगल से गुजरना पडा। जंगले के बीच वे अपना रास्ता भूल गए। वे नहीं जानते थे कि क्या करें। वे जानते थे कि कई जंगली जानवर वहां से गुजरते हैं परन्तु उनके पास एक ऐसी आशीष थीवे परिवार के रूप में प्रभु पर विश्वास करते और उससे प्रेम रखते थे। इसलिए उन्होंने अपने अपने घुटने झुकाए और प्रभु की ओर देखकर प्रार्थना की। उस समय उन्होंने उस रास्ते से एक मनुष्य को जाते हुए देखा तो वे बहुत ही आश्चर्य में पड गए। यद्यपि उन्होंने बहुत ही देर तक प्रतीक्षा की और वहां से कोई भी नहीं गुजरा। परन्तु ऐसा प्रार्थना करने के बाद हुआ और वे बहुत ही खुश होकर कहने लगे, प्रभु ने अपने स्वर्गदूत के हमारे आगे जाने के लिए भेजा है। इसलिए उन्होंने उससे बात की और जंगल से बाहर निकलने का सही मार्ग जान लिया। इस प्रकार उन्होंने प्रभु से चमत्कार पाया और अपने स्थान को सुरक्षित पहुंचे।

यदि आप अपने जीवन में प्रभु को खोजेंगे, वह आपके आगे आगे चलेगा। वह आपको कभी निराश नहीं करेगा। जब आप अपने जीवन के अंधकार स्थान में बैठे हुए होते हैं, याद रखें बाइबल कहती है, ‘‘हां, तू ही मेरे दीपक को जलाता है; मेरा परमेश्वर यहोवा मेरे अंधियारे को उजियाला कर देता है।’’ (भजन संहिता 18:28) परमेश्वर आपके सभी अंधकार को उजियाले में बदल डालेगा, कठोर पथ को समतल कर देगा।
जैसे ही परमेश्वर ने इस्राएलियों की अगुवाई की, उसी तरह से वह आपका मार्गदर्शन करेगा और आपकी रक्षा करेगा। ‘‘यहोवा उन्हें दिन को मार्ग दिखाने के लिए मेघ के खम्भे में, और रात को उजियाला देने के लिए आग के खम्भे में होकर उनके आगे आगे चला करता थाम जिससे कि वे रात और दिन में चल सके।’’ (निर्गमन 13:21) जब तक हमारे जीवन में परमेश्वर की युक्ति का उद्देश्य पूरा न हो जाता तब तक उसकी उपस्थिति हर शत्रु को विफल कर देगी। इसलिए जोर से विश्वास के साथ कहें, ‘‘हे मेरी बैरिन, मुझ पर आनन्द मत कर; क्योंकि ज्योंही मैं गिरूंगा त्योंही उठूंगा; और ज्योंही मैं अंधकार में पडूंगा त्योंही यहोवा मेरे लिए ज्योति का काम देगा।’’ (मीका 7:8)
Prayer:
प्रिय पिता,

आप तो जगत की ज्योति हैं। मैं आपकी संतान हूं और मेरे जीवन में अंधकार स्थायी रूप से नहीं हो सकता। मेरे हृदय से अंधकार हटाएं और मुझे हर अंधकार से बाहर निकालें। मेरी अंतरात्मा से आपकी आंखों से कुछ भी नहीं छिप सकता। आप मुझे गहराई से जानते हैं। आपकी ज्योति मेरे सारे शरीर, प्राण और आत्मा के द्वारा चमके। मेरी अगुवाई तब तक करें जब तक कि मैं आपके दिए गए सौभाग्य तक पहुंच न जाऊं। यीशु के नाम में,

आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000