Loading...
Stella dhinakaran

निर्बलता में बल!

Sis. Stella Dhinakaran
07 Jan
वर्तमान संसार में हम लोगों को उनके जीवन में विभिन्न कारणों से आत्मविश्वास को खोते देखते हैं। हाय! मैं अपनी पढाई पर ध्यान देने में असमर्थ हूं! जिन्होंने मेरे साथ साथ शादी की है उनकी संतानें हैं, परन्तु मुझे नहीं? मैं क्यों अपनी परीक्षाओं में बार बार नापास होती हूं? मेरी शादी में देरी हो रही है। मैं अपने जीवन में कब आशीष पाऊंगी? मेरे कर्ज बढते ही जा रहे हैं। क्या इसका कोई हल है? उसी तरह से आपके कई और बोझ होंगे। लेकिन इस प्रतिज्ञा को याद रखें,‘‘वह थके हुए को बल देता है और शक्तिहीन को बहुत सामर्थ देता है।’’ (यशायाह 40:29) यीशु आप से प्यार करता है और इसलिए वह आपकी हर इच्छा को पूरी करने के लिए बल देता है। जब आप अपना सारा बोझ उसके चरणों में रखेंगे, वह आपको छुडाने के लिए और आपको खुश करने के लिए तैयार रहता है। बाइबल कहती है, हम हन्ना के बारे में पढते हैं कि उसकी कोख बंद थी, जब उसने प्रभु के सामने अपनी आत्मा को उण्डेला, परमेश्वर ने उसे एक नहीं कई संतानें दी। (1 शमूएल 1:15,20; 2:21) आप को भी ऐसी गुणज आशीषें मिलेगी। 

एक पिता चाहता था कि उसका एकलौता बेटा एक दिन एक प्रतिष्ठित इंजीनियर बनेगा। इस उद्देश्य को पाने के लिए वह सभी बलिदान करने को तैयार था। एक कॉलेज का प्रिंसपल ने उसे एक एक सीट देने की प्रतिज्ञा की। बहुत ही मुश्किल से उस पिता ने फीस क प्रबंध किया और अगले दिन वह कॉलेज गया। तब तक प्रिंसपल ने अपने मन को बदल डाला; प्रवेश करने से इन्कार किया और उसे धक्के मार कर दफ्तर से बाहर निकाल दिया। पिता और बेटे का मन बहुत ही खेदित हुआ उसके पिता को परमेश्वर पर पूरा भरोसा होने के कारण उसने अपने बेटे को बडे आत्म विश्वास के साथ आर्ट्स कॉलेज में भर्ती किया और उसने डिग्री भी पाई। बहुत ही जल्द उसे एक बैंक में नौकरी मिली और उसने सभी विभाग की परीक्षाओं में सफलता पाई और उसने एक इंजिनियर की पद से भी बहुत ही ऊंचा पद पाया क्योंकि उस ने सारी आशा परमेश्वर पर रखी थी, इसलिए उसे अद्भुत रूप से आशीष मिली। 
हां, वही परमेश्वर आपके सभी दुखों को आनन्द में बदल डालेगा(यूहन्ना 16:20) वह आपको अपना अनुग्रह और दिलासा देगा। (2 कुरिन्थियों 7:6) बाइबल कहती है, यहोवा अपनी प्रजा को बल देगा; यहोवा अपनी प्रजा को शांति की आशीष देगा। (भजन संहिता 29:11) आज यदि आप उसके बल और आशीष की खोज में हैं, तो परमेश्वर निश्चय आपको अपनी शांति और बल देगा। चाहे कोई जवान या बूढा हो, या बडा या छोटा हो जो कोई भी उसको पुकारेगा, वह अपनी आत्मा को सभी प्राणियों पर उण्डेंलेगा। (योएल 2:28) आप परमेश्वर के बल से उकाब के समान ऊंचा उडें और उसकी महिमा के लिए बडे बडे कार्य करें।
Prayer:
प्रेमी प्रभु,

मैं आपके सामने अपनी चिंताओं, बोझ और संकटों को रखती हूं। आज से आप मुझे बल दें। आप मे विश्वास बढने में मेरी मदद करें । मैं विश्वास करती हूं कि आप मेरे लिए ऐसा करेंगे। आपका बल मेरी निर्बलता में प्रगट हो। मैं आपके बल के लिए आपको स्तुति और धन्यवाद देती हूं जो मुझ पर आ रहा है। यीशु के अनमोल नाम में, मैं प्रार्थना करती हूं,

आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000