Loading...
Evangeline Paul Dhinakaran

आपके सामने रखी दौड़ को दौड़े

Sis. Evangeline Paul Dhinakaran
09 Nov
प्रेरित पौलुस यीशु मसीह की बुलाहट को अपने जीवन मे पूरी करने के लिए आगे बढ़ते रहे। अपने विश्वास के द्वारा उन्होने परमेश्वर के लिए बड़े  आश्चर्य कर्म किए। परमेश्वर ने प्रत्येक को कुछ ना कुछ विशेष करने के लिए बुलाया है। परमेश्वर हमें पवित्र आत्मा के सारे 9 वरदान देते है हमारे  कौशल के अनुसार वरदान हमारे जीवन मे काम करते है। इसलिए जब हम परमेश्वर की इच्छा अनुसार चलते है तब अपनी दौड़ जय के साथ पूरी कर पाएँगे।

जब मैने सेवकाई शुरू की तब मैं बहुत धीरे बोलती थी। मैं इतना धीरे बोलती थी की यीशु बुलाता है के सहकर्मियों को माइक की आवाज़ तेज करनी पड़ती थी। उसके बाद भी मेरी आवाज़ लोगो तक नही पहुँचती थी। पर  मैं व्यक्तिगत प्रार्थना उँची आवाज़ मे करती थी । एक बार मेरी बहन ने मुझ से पूछा, "आप बहुत धीरे बोलती है परंतु आप प्रार्थना उँची आवाज़ मे कैसे कर लेती हैं। मैं दुखी हो गयी और मैने परमेश्वर से प्रार्थना की, "मैं अपने पति डा. पॉल दिनाकरन मेरे ससुर (स्वर्गीय) डा. डी. जी. एस. दिनाकरन और मेरी सास बहन स्टेला दिनाकरन के समान बोलना चाहती हूँ।" उस समय एक दंपति हमारे घर आए और दोनो ने हमारे लिए भविष्यवाणी की।  पति ने हम सब के लिए प्रार्थना की और अंत मे पत्नी ने मेरे लिए अलग से प्रार्थना करने की इच्छा जाहिर की। उन्होने कहा, "आपको यह प्रार्थना नहीं करनी चाहिए की आप अपने पति या अपने परिवार के अन्य जनों के समान बोले। क्योंकि परमेश्वर आप को अलग तरीके से इस्तेमाल करना चाहते है।"
जीवन का वचन

उसी प्रकार, परमेश्वर ने हम प्रत्येक को चुना है। वे हम सबको अलग रूप से इस्तेमाल करना चाहते है। इसलिए आप कैसी भी परिस्थिति मे हो भरोसा ना छोड़िए और जो काम परमेश्वर ने आप को सौंपा है उसे कीजिए तब आपको महिमा का मुकुट दिया जाएगा, जो मुरझाने का नहीं। (1 पतरस 5:4) आपके सामने एक दौड़ रखी गयी है जिसे आपको ही पूरा करना है। कोई मनुष्य आपकी सहायता नही कर सकता है जब आप निराश, तिरस्कार और विफलता का सामना करते है केवल प्रभु यीशु आपकी सहायता कर सकते है। जो आपके विश्वास के कर्ता और उसे सिद्ध करने वाले भी है।  इसलिए यीशु मसीह पर पूरा विश्वास रखिए और आप ज़रूर विजयी होंगे। अपनी उपलब्धियों पर भरोसा ना रखे। आज से नई शुरुआत करे। जैसा बाइबल कहती हैं "इस कारण जब कि गवाहों का ऐसा बड़ा बादल हम को घेरे हुए है, तो आओ, हर एक रोकने वाली वस्तु, और उलझाने वाले पाप को दूर कर के, वह दौड़ जिस में हमें दौड़ना है, धीरज से दौड़ें। और विश्वास के कर्ता और सिद्ध करने वाले यीशु की ओर ताकते रहें; जिस ने उस आनन्द के लिये जो उसके आगे धरा था, लज्ज़ा की कुछ चिन्ता न करके, क्रूस का दुख सहा; और सिंहासन पर परमेश्वर के दाहिने जा बैठा।" (इब्रानियों 12:1-2)
Prayer:
प्रिय स्वर्गीय पिता, मेरे साथ रहने के लिए और मेरी अगुवाई करने के लिए आपका धन्यवाद। आपने जो काम मुझे सौंपा है उसमे विश्वास-योग्य बने रहे मे मेरी सहायता कीजिए। मुझे अपना अनुग्रह दीजिए की मैं अपना क्रूस उठा सकूँ क्योंकि आप मुझे जय देंगे।

यीशु मसीह के नाम से मैं ये प्रार्थना माँगता/ माँगती हूँ। आमीन।

1800 425 7755 / 044-33 999 000