Loading...
Paul Dhinakaran

परिपूर्ण आशीषें!

Dr. Paul Dhinakaran
14 Oct
मेरे अनमोल मित्र, आज आप पर परमेश्वर की प्रतिज्ञा यहेजकेल 34:26 का वचन उतर रहा है जो कहता है, ‘‘मैं उन्हें और अपनी पहाडी के आस पास के स्थानों को आशीष का कारण बना दूंगा; और मेंह को मैं ठीक समय में बरसाया करूंगा, और वे आशीषों की वर्षा होंगी।’’ मेरे मित्र आप परमेश्वर पहाड हैं और आप उसके सिय्योन हैं। परमेश्वर सिय्योन को चाहता है क्योंकि आप उसे अपने अंदर बसाए बैठे हैं। आप परमेश्वर के वास स्थान बन जाते हैं! परमेश्वर कहता है कि जहां मैं हूं वहां पर आशीषें हैं। इसलिए प्रतिदिन सुबह सवेरे उसकी स्तुति करनी चाहिए।
 
परमेश्वर आप के अंदर और आपके लिए शासन करता है। वह आपके अंदर पंख फैलाकर चंगाई लाकर उठाएगा और आप पाले हुए बछडे की नाई कूदोगे और फांदोगे। परमेश्वर फाड खाने वाले सिंह को आपके पैरों तले कुचल डालेगा। यह आपके लिए एक आशीष है क्योंकि आप परमेश्वर के पहाड हैं उसके बाद वह कहता है, मैं आशीषों की वर्षा भेजूंगा। यदि आप सभोपदेशक 3:11 में परमेश्वर कहता है, ‘‘मैं ने सब कुछ अपने अपने सुंदर समय पर बनाया है’’। मैं ठीक समय पर आपके जीवन में आशीषों की वर्षा बरसाऊंगा और वे बडी उपज और सुंदर फल लाएगा।
यहेजकेल 34 और योएल 2:23 में बाइबल कहती है, इसलिए आप को केवल आनन्दित होना है क्योंकि परमेश्‍वर अपने पहाड को सजाने में समर्थशाली है जो आपका हृदय है। यशायाह 60:22 में परमेश्वर कहता है, ‘‘छोटे से छोटा एक हजार हो जाएगा और सब से दुर्बल एक सामर्थी जाति बन जाएगा।’’ परमेश्वर केवल फलों पर ही आनंदित न करेगा बल्कि उपज को भी देगा। वह आपको ऐसा बढाएगा कि आप एक हजार हो जाएंगे। आप मत घबराएं। यीशु आप से प्रेम करता है। आप उसके पहाड हैं। आप आशीषों की वर्षा के साथ सम्मान पाएंगे।
Prayer:
मेरे प्रेमी स्वर्गीय पिता,

आज की प्रतिज्ञा के लिए आपको धन्यवाद। मैं आप को दीनता से विनती करता हूं कि आप आएं और मेरे हृदय में वास करें और इसे अपना पहाड बनाएं। मैं सदा आपके प्रेम में यह जानकर आनन्दित रहूं कि आप ठीक समय पर अपनी हर आशीष मुझे भेजेंगे। यीशु के नाम में,

मैं प्रार्थना करता हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000