Loading...

केवल उत्तम पदार्थ!

Shilpa Dhinakaran
23 Nov
प्रिय मित्र, परमेश्वर का प्रतिज्ञा वचन भजन संहिता 85:12 से लिया गया है, ‘‘यहोवा उत्तम पदार्थ देगा; और हमारी भूमि अपनी उपज देगी।’’ (भजन संहिता 85:12) मैं व्यक्तिगत रूप से इस प्रतिज्ञा वचन को बहुत पसंद करती हूं क्योंकि यही मेरे जीवन में बचपन से लेकर अब तक होता आया है। हमारे परिवार में हमारे समय भला और बुरा होता आया है। मै उसे प्रभु के द्वारा दी गई आशीषों के रूप में लेती हूं कि निश्चय वह केवल उत्तम पदार्थ ही देगा। इसलिए कई कार्य आपके जीवनों में भी होते होंगे परन्तु हमेशा याद रखें कि प्रभु आप से प्रेम करता है और आप उसकी संतान हैं जिससे कि वह आपकी किसी भी बात के लिए कभी कोई हानि नहीं करेगा। हर चीज जो प्रभु देता है वह अच्छा होता है।
 
रोमियों 8:28 में बाइबल कहती है, ‘‘हम जानते हैं कि जो लोग परमेश्वर से प्रेम रखते हैं, उनके लिए सब बातें मिलकर भलाई ही को उत्पन्न करती है; अर्थात् उन्हीं के लिए जो उसकी इच्छा के अनुसार बुलाए हुए हैं।’’ जब हम प्रभु से प्रेम करते हैं और खुद को उसके हाथों में सौंप देते हैं, वह हमें केवल उत्तम पदार्थ ही देता है। मैं अपने जीवन की कई घटनाओं को स्मरण करती हूं जहां पर मैं चकित होती हूं, खासतौर से मेरी 12 वीं परीक्षाओं के दौरान मैं ने इतनी मेहनत की परन्तु जिन अंकों की मैं अपेक्षा कर रही थी नहीं मिले परन्तु तब भी प्रभु ने हमारे लिए भला ही किया था। उसके उसने मुझे एक अद्भुत कॉलेज में प्रवेश दिया और मुझे एमबीएमबीएस को पूरा करने के लिए समर्थ किया जिसके लिए मैं प्रभु को हर दिन मैं धन्यवाद देती हूं। इसलिए मेरे मित्र, चाहे छोटी सी असफलता या निराशा जो तो चिंता मत करें क्योंक़ि प्रभु आपके जीवन के लिए केवल उत्तम पदार्थ ही देगा।
बाइबल में हम अब्राहम और लूत को देखते हैं। वे परमेश्वर के दिशा की ओर यात्रा करके एक स्थान पर चले गए। जब वे कनान देश के पास पहुंचे, उनके कई भेड बकरियां हो गई जिसको उन्हें अलग करना पडा। अब्राहम ने लूत से अपनी जगह पहले चुनने को कहा और लूत ने सदोम को चुना और अब्राहम परमेश्वर के द्वारा दिए गए स्थान में चलने को शीघ्र तैयार हुआ। उसी तरह से परमेश्वर ने अब्राहम को दूध और मधु से बहते हुए देश को दिया जो कनान था। लूत ने हरे भरे जो उसकी आंखों को सुख देनेवाला था और सुखदायक देश को चुना। परन्तु उस स्थान को जला दिया गया क्योंकि वहां के लोगों में पाप भरा हुआ था। इसलिए अब्राहम को आश्हीष मिली क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा मांगी थी। हां, मेरे मित्र, आप भी उस पर यह चिंता न करें कि परमेश्वर जो कुछ देता है निश्चय वह उसके भेष में एक आशीष लाती है। आप निश्चय पीछे मुडकर देखेंगे। आप निश्चय पीछे मुडकर देखेंगे और एक दिन आप परमेश्वर को धन्यवाद देंगे क्योंकि उसने हमें केवल उत्तम पदार्थ दिए हैं।
Prayer:
प्रेमी प्रभु यीशु,

इस प्रतिज्ञा के लिए आपको धन्यवाद। मुझे अपनी उपस्थिति और आत्मा से भरें। मैं ने जो मांगा वो प्राप्त नहीं किया उसके लिए मैं परेशान न होवूं। मैं विश्वास करती हूं कि आप मुझे केवल भली और उत्तम चीजें ही देंगे। मैं अपने जीवन में केवल आप ही की इच्छा पूरी करूं और उसके द्वारा आपकी महिमा लाऊं। आपके मधुर नाम में, मैं प्रार्थना करती हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000