Loading...
Paul Dhinakaran

अतुलनीय आनन्द!

Dr. Paul Dhinakaran
13 Sep
प्रिय मित्र, परमेश्वर आपको स्मरण दिलाना चाहता है कि प्रभु का आनन्द आपका बल है। हां, आज परमेश्वर का वचन नहेम्याह 8:10 से लिया गया है, नहेम्याह कहता है, ‘‘जाकर चिकना चिकना भोजन करो और मीठा मीठा रस पीओ और जिनके लिए कुछ तैयार नहीं हुआ उनके पास भोजन सामग्री भेजो: क्योंकि आज का दिन हमारे प्रभु के लिए पवित्र है; और उदास मत रहो, क्योंकि यहोवा का आनन्द तुम्हारा दृढ गढ है।’’ क्या आप जानते हैं कि इस वचन को कब लिखा गया था? यह उस वक्त नहेम्याह के द्वारा कहा गया जब लोगों ने अपने दुष्ट मार्गों से मन फिराया और वे परमेश्वर की ओर फिरे।
 
उसने कहा, तुम ने मन फिराया और परमेश्वर के सामने अपने पापों के पुकारा है। परमेश्वर ने आपके आंसुओं को देखा है। उसने आपके मन फिराव को देखा है। आगे आप खुद को दोष मत लगाएं। यह समय आपको यह कहकर आनन्दित होना है, मेरे परमेश्वर ने मेरे पापों को क्षमा कर दिया है। आप खुद पर दोष मत लगाएं। बाइबल कहती है, जब आप सचमुच मन फिराएंगे और अपने दुष्ट मार्गों से फिरेंगे, तब प्रभु आपको क्षमा करने के लिए विश्‍वासयोग्य है। यीशु मसीह लहू हमारे सब पापों से हमें शुद्ध करता है। इसलिए एक बार जब आप पश्‍चाताप करते हैं, तो विश्‍वास करें कि यीशु मसीह के लहू से आपके सब पापों से शुद्ध कर दिया है और आनन्दित रहें। हां, मैं फिर से कहता हूं आनन्दित रहें और आनन्द के साथ कूदें।
एक व्यक्ति था जो ड्रामाओं में अभिनय करता था। वह एक संकल्प पर आ गया कि कोई परमेश्वर नहीं है। इसलिए उसने अपने ड्रामाओं के लिए खुद उल्लेख लिखना शुरु कर दिया। क्या आप जानते हैं कि उसने अपने ड्रामों का विषय क्या रखा? यही कि, कोई परमेश्वर नहीं है परन्तु उसके बाद वह एक दुखमयी स्थिति में पड गया, उसने अपनी शांति खो दी और वह शांति की खोज में था। एक दिन उसने अपने घर के पास एक चर्च के चारों तरफ एक बडी भीड को देखा। उसने देखा कि चर्च के अंदर कोई प्रचार कर रहा था और चर्च लोगों की भीड से उमण्ड रह अथा। इसलिए वह भीड में घुस कर एक खिडकी से देखा कि प्रचारक क्या प्रचार कर रहा है। वह इसलिए खुश था कि उसके अगले लेख में वह यीशु के बारे में लिखूंगा, मैं इस मनुष्य की बातों से अपना अगल लेख तैयार करूंगा और मैं यीशु की और भी अधिक निंदा करूंगा। उसी समय, प्रचारक ने उसकी ओर संकेत करके अनजाने में कहा, जवान व्यक्ति, यीशु तुम से प्रेम करता है। उसी समय उसने परमेश्वर के आनन्द को अपने हृदय में भरने का अनुभव किया और उसका सारा क्रोध उसमें से निकल चला गया और वह एक नया व्यक्ति बन गया। यीशु ने उसके हृदय से यह कहकर बात की, ‘‘जीवानन्दम, मैं ने तुझे नया कर दिया है।’’ इसलिए जब आप यीशु को अपनाते हैं, तब वह अपने अनमोल लहू से आपको नया कर देगा और अपने आनन्द से आपको भरेगा।
Prayer:
प्रेमी पिता,
 
हे प्रभु मैं अपने हृदय को अभी इसी वक्त आपको देता हूं। मेरे हृदय में आएं और मुझे अपने आनन्द से भरे। अपने अनमोल लहू से धोएं और मुझे हिम जैसा सफेद करें। मुझे एक नया व्यक्ति बनाएं और आपकी महिमा के लिए मुझे इस्तेमाल करें। यीशु के अनमोल नाम में,

मैं प्रार्थना करता हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000