Loading...
Evangeline Paul Dhinakaran

आदर और श्रेष्ठ

Sis. Evangeline Paul Dhinakaran
24 Feb
प्रिय मित्र, परमेश्वर ने आपके लिए एक अद्भुत प्रतिज्ञा को रखा है, व्यवस्थाविवरण 28:13, ‘‘प्रभु आपको पूंछ नहीं सिर ही बनाएगा।’’ यदि आप प्रभु यहोवा परमेश्वर की आज्ञाओं को चौकसी से पूरी करने को चित्त लगाकर सुनेंगे और रात और दिन उसके मार्गों पर ध्यानपूर्वक चलेंगे, तो आप नीचे नहीं परन्तु ऊपर ही होंगे। जब मिस्र देश में इस्राएली बहुत ही क्लेशों से गुजर रहे थे तब प्रभु ने उन्हें छुटकारा  और दासत्व से उन्हें बाहर निकाला और प्रभु ने उन्हें मिस्र देश से अपने अपने सिरों को ऊंचा करके बाहर निकाला।

लैव्यव्यवस्था 26:13 में भी हम पढते हैं, ‘‘मैं तो तुम्हारा वह परमेश्वर यहोवा हूं, जो तुम को मिस्र देश से इसलिए निकाल ले आया कि तुम मिस्रियों के दास न बने रहो; और मैं ने तुम्हारे जुए को तोड डाला है, और तुम को सीधा खडा करके चलाया है।’’ जैसे कि हम इस दुष्ट संसार में हैं इसलिए हम भी ऐसी ही मार्गों पर चलते हैं। आप यह कह रहे होंगे कि मैं उस दुष्ट के अधीन में हूं। मैं पाप के दासत्व में हूं। मैं अपने परिवार के सदस्य की एक दासी हूं। मैं अपने कार्यस्थल पर में एक दासी के समान हूं। परन्तु आज प्रभु आप से कहता है, ‘‘मैं तुझे सिर बनाऊंगा पूंछ नहीं। तुम नीचे नहीं ऊपर ही होगे।’’
मेरे मित्र, यही आत्मा आज प्रभु आपको देने जा रहा है। रोमियों 8:15 में हम पढते हैं, ‘‘क्योंकि तुम को दासत्व की आत्मा नहीं मिली कि फिर भयभीत हो; परन्तु लेपालकपन की आत्मा मिली है; जिससे हम ‘‘हे अब्बा, हे पिता’’ कहकर पुकारते हैं।’’ परमेश्वर अपनी आत्मा के द्वारा हमें अपनी संतान बनाता है। वह हमें अपने अनमोल लहू से अपने राज पदधारी परिवार में ग्रहण करता है। इफिसियों 2:19 पौलुस कहता है, फलस्वरूप, आप विदेशी और अनजान नहीं रहे परन्तु परमेश्वर के निज लोग और उसके घराने के सदस्य हैं। आप यह मत कहें, ‘‘मैं अपने परिवार में सब से छोटा या छोटी हूं। मैं अपने कार्यस्थल में एक अनजान व्यक्ति के रूप में हूं। आज प्रभु आपको अपने अभिषेक से भरेगा और आपके भविष्य के बारे में जो आपको डर है उसे हटा देगा। केवल यही नहीं परमेश्वर आपको सिर ही बनाएगा और आप इस संसार में सब से ऊंचे स्थान पर होंगे। प्रभु आपको कई चीजों पर शासक बनाएगा।
Prayer:
प्रेमी प्रभु यीशु,

मैं अपने कार्यस्थल पर एक दासी के रूप में बर्ताव की जाती हूं। मैं अपने परिवार में एक अनजान व्यक्ति के रूप में पेश की जाती हूं। हे प्रभु, मेरी स्थिति को उलटा पुलटा कर दें। आप अपनी प्रतिज्ञा पूरी करें और मुझे पूंछ नहीं सिर ही बनाए। मुझे सयंम भरा मन दें। मेरे जीवन से डर को हटा दें। मैं जो कुछ भी करूं उत्तम करूं। मुझे अपने अभिषेक से भरें। मेरी सारी बुरी आदतें चली जाएं। मेरे जीवन में कोई पाप  न रहे। मेरे सिर को ऊंचा करनेवाले बने। मेरी महिमा बने। आपके अनमोल नाम में, मैं प्रार्थना करती हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000