Loading...
Paul Dhinakaran

परमेश्वर आपकी विरासत और भाग है

Dr. Paul Dhinakaran
08 May
प्रिय मित्र, यह दिन एक महान आशीर्वाद हो सकता है। परमेश्वर की ओर से आज की प्रतिज्ञा भजन संहिता 16:5 में पाई जाती है, जो कहती है, “यहोवा मेरा भाग और मेरे कटोरे का हिस्सा है; मेरे भाग को तू स्थिर रखता है।" हाँ, प्रिय मित्र, इस भाग में दाऊद स्वयं को पूर्ण रूप से परमेश्वर के हाथों में समर्पित कर देता है।  

जब दाऊद परमेश्वर के बारे में उसकी विरासत होने की बात करता है, तो वह कहता है, "हे प्रभु, इस संसार में मुझे रहने के लिए केवल आप ही की जरुरत हैं। हर आशीर्वाद आप में निहित है क्योंकि आपने मुझे हर आशीर्वाद और हर विरासत के लिए क्रूस पर कीमत चुकाई है।” यह केवल वह विरासत नहीं है जो आप अपने पार्थिव पिता या पार्थिव माता से प्राप्त करते हैं। यह कीमती हो सकता है लेकिन यह सिर्फ जमीन, सोना और धन जैसी चीजें हो सकती है। परन्तु जो विरासत यीशु ने क्रूस पर अपने बलिदान के द्वारा हमें दी है, वह स्वयं जीवन है।  

परमेश्वर हमें वह पूर्ण आशीर्वाद देगा। इसलिए दाऊद ने कहा, “प्रभु, तू ही मेरा पूरा निज भाग है। सभी अच्छे वरदान आप में हैं।” आज भी परमेश्वर आप से यह सुनने को तरसता है। आइए हम यीशु के लिए पूछें। यशायाह 58:14 में हम इस तरह की आशीष देखते हैं, " तो तू यहोवा के कारण सुखी होगा, और मैं तुझे देश के ऊंचे स्थानों पर चलने दूंगा; मैं तेरे मूलपुरूष याकूब के भाग की उपज में से तुझे खिलाऊंगा, क्योंकि यहोवा ही के मुख से यह वचन निकला है" हाँ, आप प्रभु में अपना आनंद पाने जा रहे हैं क्योंकि वह आपकी विरासत बना है। दूसरे, वह हमारा इनाम है। 1 कुरिन्थियों 9:24-27, “या तुम नहीं जानते, कि दौड़ में तो दौड़ते सब ही हैं, परन्तु इनाम एक ही ले जाता है तुम वैसे ही दौड़ो, कि जीतो और हर एक पहलवान सब प्रकार का संयम करता है, वे तो एक मुरझाने वाले मुकुट को पाने के लिये यह सब करते हैं, परन्तु हम तो उस मुकुट के लिये करते हैं, जो मुरझाने का नहीं। इसलिये मैं तो इसी रीति से दौड़ता हूं, परन्तु लक्ष्यहीन नहीं, मैं भी इसी रीति से मुक्कों से लड़ता हूं, परन्तु उस की नाईं नहीं जो हवा पीटता हुआ लड़ता है।  परन्तु मैं अपनी देह को मारता कूटता, और वश में लाता हूं; ऐसा न हो कि औरों को प्रचार करके, मैं आप ही किसी रीति से निकम्मा ठहरूं।” जब हम यीशु के लिए जीते हैं, वह हमारा इनाम है, हमारी धार्मिकता का मुकुट है।
तीसरा, बाइबल आनंद के बारे में बात करती है। दाऊद कहता है, “हे प्रभु, तू मेरा सुख है।” मत्ती 12:18 में परमेश्वर कहता है, "यह मेरा दास है जिसे मैं ने चुन लिया है, जिस से मैं प्रीति रखता हूं, जिस से मैं प्रसन्न हूं; मैं अपना आत्मा उस पर डालूंगा, और वह अन्यजातियों को न्याय का प्रचार करेगा।” परमेश्वर आपसे भी यही कहते हैं। तुम उसकी खुशी हो, तुम उसका सुख हो।  इसलिए आप यह कहने में सक्षम हैं, "परमेश्वर, आप मेरे आनंद हैं और आप मेरे सब कुछ हैं।" दाऊद ने भी कहा, हे यहोवा मेरा परिवार का भाग तुझ से छोटा है। हमें भी यह कहना चाहिए, "प्रभु, परिवार वगैरह के साथ अपना समय बिताने से ज्यादा, मैं आपके साथ रहना पसंद करता हूं क्योंकि आप मेरा आनंद हैं।" अंत में, दाऊद कहता है, "तू मेरा भाग है।" इफिसियों 5:30 में बाइबल कहती है, "क्योंकि हम उसके [यीशु] शरीर, उसके मांस और हड्डियों के अंग हैं।" हाँ, प्रिय मित्र, आप परमेश्वर के हैं। उसका जीवन आपके शरीर में प्रवाहित होगा और आप महिमा से जुड़े रहेंगे। आप बड़े धन्य हैं। इस आशीर्वाद के लिए परमेश्वर की स्तुति करो। परमेश्वर आप को आशीष दे।  
Prayer:
प्यारे पिता, 

आज आपने जो प्रतिज्ञा की है इस विशेष अनुग्रह के लिए धन्यवाद। मुझे पूर्ण आशीष का आनंद दें और आपके आने तक आप मेरे सब कुछ बने रहें। यीशु के अनमोल नाम में,

मैं प्रार्थना करता हूँ।  आमीन।

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000