Loading...

परमेश्वर आप से प्रसन्न है!

Shilpa Dhinakaran
14 May
प्रिय मित्र, आज की परमेश्वर की प्रतिज्ञा निर्गमन 33:17 से ली गई है, ‘‘मैं यह काम भी, जिसकी चर्चा तू ने की है, करूंगा; क्योंकि मेरे अनुग्रह की दृष्टि तुझ पर है, और तेरा नाम मेरे चित्त में बसा है।’’ यह क्या ही सुंदर एक प्रतिज्ञा है! प्रभु कहता है, ‘‘मैं तेरे नाम को जानता हूं और मैं तुझ से प्रसन्न हूं।’’ प्रभु यह भी कहता है, यशायाह 49:15 ‘‘क्या यह हो सकता है कि कोई माता अपने दूधपीते बच्चे को भूल जाए और अपने जन्माए हुए लडके पर दया न करे? हां, वह तो भूल सकती है, परन्तु मैं तुझे नहीं भूल सकता।’’ इस परिस्थिति में शायद आप अकेलेपन का दुख उठा रहे हैं। आपके परिवार में शायद गलतफहमियां होंगी या आप अपने माता पिता से दूर होंगे या अपने पति या अपनी पत्नी से दूर होंगे परन्तु प्रभु कहता है, ‘‘मेरे बच्चे, मैं तुझ से प्रेम करता हूं और मैं तुझे तेरे नाम से जानता हूं।’’
 
आपको जो कोई भी चिंता हो तो आप प्रभु से कहें क्योंकि वही हमारी चिंताओं को हटाता है। यशायाह 43:4 में बाइबल कहती है,‘‘मेरी दृष्टि में तू अनमोल और प्रतिष्ठित ठहरा है और मैं तुझ से प्रेम रखता हूं, इस कारण मैं तेरे बदले मनुष्यों को और तेरे प्राण के बदले में राज्य राज्य के लोगों को दे दूंगा।’’ प्रभु कहता है कि वह आप से बहुत ही प्यार करता है कि वह आपके जीवन के बदले में जातियों को दे देगा। उसका क्या अर्थ है? परमेश्वर आपको दूसरों को देने के लिए भली चीजें देगा और वह आपको बुराई से बचाएगा । इसलिए आप यह न सोचें कि इस संसार में आपके लिए कोई भी नहीं है। आप अकेलेपन का अनुभव मत करें। ऐसा मत कहें कि मेरी चिंता करनेवाला कोई भी नहीं है। ऐसा मत कहें कि आपके आंसुओं को देखनेवाला कोई भी नहीं है।
आप ने शायद अपने प्रियजन को खो दिया है और वह अकेलापन आपके हृदय को शोक से भरता होगा परन्तु प्रभु कहता है, ‘‘मैं तेरे संग हूं।’’  हां, उसकी प्रतिज्ञा यशायाह 41:10 कहती है, ‘‘मत डर, क्योंकि मैं तेरे संग हूं, इधर उधर मत ताक, क्योंक़ि मैं तेरा परमेश्वर हूं; मैं तुझे दृढ करूंगा और तेरी सहायता करूंगा, अपने धर्ममय दाहिने हाथ से मैं तुझे सम्भाले रहूंगा।’’ वह आपके साथ हर समय होगा। वह आपसे कभी भी अलग न होगा। जैसे कि हम भजन संहिता 139:8 में बाइबल कहती है, ‘‘यदि मैं आकाश पर चढूं, तो तू वहां है, यदि मैं अपना बिछौना अधोलोक में बिछाऊं तो वहां भी तू है। ’’ हां, आप जहां कहीं भी होंगे परमेश्वर की उपस्थिति आपके साथ होगी और वही एक है जो आपको शांति देता है और आपको आनन्द देता है। वह आपके दुखों की हर परिस्थिति को आनन्द में बदल डालेगा।
Prayer:
प्रभु यीशु,
 
आपके बहुतायत के प्रेम के लिए आपको धन्यवाद। आपकी दृष्टि में मैं अनमोल हूं, इसलिए आपको धन्यवाद। मुझे अपने अकेलेपन और तनाव से बाहर आने में मदद करें। मुझे अपनी उपस्थिति से भर डालें। मुझे आपके निकट उपस्थिति का अनुभव कराएं। मेरे शोक को आनन्द में बदल डालें। मेरे हर खाली स्थान में अपनी उपस्थिति से भरें। मुझे अपनी आत्मा से भरें। आपके अनमोल नाम में,

मैं प्रार्थना करती हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000