Loading...

मसीह में बनना

Stella Ramola
09 Apr
प्रिय मित्र, परमेश्वर के वचन को आपके साथ बांटने में मुझे बहुत आनन्द प्राप्त हो रहा है, जो लैव्यव्यव्स्था से कहा गया है, ‘‘मैं तुम्हारे मध्य चला फिरा करूंगा। मेरा जी तुम से घृणा नहीं करेगा।’’  इस प्रतिज्ञा को प्रभु ने इस्राएलियों को दिया क्योंकि परमेश्वर अपने लोगों के बीच में चला फिरा करता था और उन्होंने परमेश्वर की प्रतिज्ञा को पाई थी कि जैसे ही प्रभु उनके लिए लडेगा उन्हें कोई खतरे का सामना न करना पडेगा। हां, प्रिय मित्र, यह प्रतिज्ञा केवल इस्राएलियों के लिए ही नहीं बल्कि अब यह आपके लिए भी है। अब परमेश्वर आप में वास करता है। इसी को हम 2 कुरिन्थियों 6:16 में देखते हैं, ‘‘क्योंकि हम जो जीवते परमेश्वर के मंदिर हैं, जैसा परमेश्वर ने कहा है, मैं उनमें बसूंगा और उनमें चला फिरा करूंगा, मैं उनका परमेश्वर हूंगा और वे मेरे लोग होंगे।’’

ऊपर चर्चित वचन के अनुसार जैसे कि हम परमेश्वर के मंदिर हैं, वह हमारे अंदर वास करता है। हमें यीशु है जो हमारा जीवित परमेश्वर हमारे हृदयों में वास करता है। आज आप यह सोच रहे होंगे कि, इतना बडा परमेश्वर जिसने इस ब्रह्माण्ड को बनाया वह मेरे बारे में क्यों स्मरण करेगा? क्या वह मेरी प्रार्थनाओं को सुनेगा जब कि उसे कई दूसरे कार्य करने हैं? परन्तु मेरे मित्र, जैसे ही आप यीशु पर भरोसा रखेंगे, तो आप परमेश्वर के मंदिर बन जाएंगे और आज जीवित परमेश्वर यीशु आप में वास करेगा। इफिसियों 2:22 में बाइबल कहती है,‘‘ जिसमें तुम भी आत्मा के द्वारा परमेश्वर का निवासस्थान होने के लिए एक साथ बनाए जाते हो।’’ 
इसलिए कुछ भी आपको परमेश्वर से अलग नहीं कर सकता क्योंकि परमेश्वर ने आप के अंदर खुद को बनाया है। आपकी आत्मा और उसकी आत्मा एक हो सकती है। इसलिए चिंता मत करें और यह न सोचें कि क्या परमेश्वर मेरी सुनेगा कि नहीं। वह आपके अंदर वास करता है। तभी तो वह इस जगत में आया कि वह आप में वास कर सके, आपके साथ चल फिर सके और आपके साथ संगति रख सके। परमेश्वर आपका मार्गदर्शक और शिक्षक होगा और जिस मार्ग से आपको चलना वह बताएगा। इसलिए उसमें आनन्दित हो जाएं। कोई भी आपको उससे अलग न कर पाएगा। इसलिए मत घबरों। हियाव बांधें!
Prayer:
प्रेमी प्रभु,
 
आप आएं और मुझ में वास करें और मेरे सारे डर को हटाएं। मेरी मदद करें कि आपके साथ चलूं, आप से बात करूं और मेरे अंदर आपकी उपस्थिति को पहचानूं। मेरे साथ रहें और दिन के छोटे से कार्य में भी मुझे आपकी उपस्थिति का एहसास कराएं। आप मुझे अनुग्रह दें कि मैं आपकी आवाज सुनूं और आपकी आज्ञा मानूं। मुझे आप से कोई भी अलग न कर सकता इसलिए आपको धन्यवाद। यीशु के अनमोल नाम में, मैं प्रार्थना करती हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000