Loading...
Stella ramola

परमेश्वर का मित्र बनना!

Sis. Stella Dhinakaran
03 Aug
मेरे प्रिय बच्चों! मैं आप को परमेश्वर की प्रतिज्ञा बांटने और हमारे प्रभु और उद्धारकर्त्ता यीशु मसीह के नाम से आपका स्वागत करने में मुझे बडी खुशी हो रही है। आज मैं ने हमारे मनन के लिए उत्पत्ति 13:17 से ली गई है। यह वचन कहता है, ‘‘उठ,इस देश की लम्बाई और चौडाई में चल फिर, क्योंकि मैं उसे तुझे को दूंगा।’’ यह प्रतिज्ञा अब्राहम को दी गई थी। अब्राहम परमेश्वर का चुना हुआ जन था। यदि आप यहोशू 24:2,3 पढेंगे परमेश्वर, वहां पर हम देखते हैं कि अब्राहम का पिता अन्य देवताओं को खोजता था और उनका अनुयायी था। फिर भी आप परमेश्वर का अनुग्रह देखें।
 
सर्वशक्तिमान परमेश्वर अब्राहम के पास आया और उसे अपने मित्र, अनुयायी और बेटे के रूप में चुना। अब्राहम ने अपने पूरे हृदय के साथ के साथ चलना शुरु किया और वह परमेश्वर का एक मित्र बन गया। हम उसे इसके बारे में, 2 इतिहास 20:7, यशायाह 41:8 और याकूब 2:23 के वचन में पढते हैं। उसने इन सभी आशीषों की प्रतिज्ञा की है। उत्पत्ति 13:15-16 में परमेश्वर अब्राहम से कहता है, ‘‘क्योंक़ि जितनी भूमि तुझे दिखाई देती है, उस सब को मैं तुझे और और तेरे वंश को युग युग के लिए दे दूंगा। मैं तेरे वंश को पृथ्वी की धूल के किनको के समान बहुत करूंगा, यहां तक कि जो कोई पृथ्वी की धूल के किनकों को गिन सकेगा वही तेरा वंश भी गिन सकेगा।’’ क्या ही अद्भुत आशीषें हैं!
क्या आप भी परमेश्वर से ऐसी आशीषें पाना चाहते हैं? मेरे अनमोल बच्चों, परमेश्वर आप से प्रेम करता है और वह अपनी सारी आशीषों के साथ आपको आशीष देना चाहता है। आपको केवल एक ही बात करनी है कि आप प्रभु के साथ निकट संगति में जाने की जरूरत है तब आप अब्राहम के जैसे आशीष पाएंगे। अब, स्वर्ग से सभी आशीषों को पाने के लिए परमेश्वर की ओर देखें और विश्वास के साथ प्रार्थना करें।
Prayer:
मेरे स्वर्गीय प्रेमी पिता,

आज की प्रतिज्ञा के लिए आपको धन्यवाद। मुझ पर दया करें। मेरे सभी अपराधों को क्षमा करें। मैं जानती हूं, कि आप मुझ से बहुत प्रेम करते हैं। आपके साथ चलने के लिए और अब्राहम के जैसे मुझ से बात करने के लिए अनुग्रह दें। मैं आपके क्षमापन और आपको अपना जीवन समर्पित करने के लिए बेसब्री से बांट करती हूं। हे प्रभु, आपके साथ निकट संगति करने और बहुतायत की आशीष देने के लिए मेरी मदद करें। यीशु के नाम में,

मैं प्रार्थना करती हूं, आमीन!

For Prayer Help (24x7) - 044 45 999 000