Loading...
01 Oct
अत्यधिक महान!
Dr. Paul Dhinakaran

परमेश्वर उन सब के लिए सब कुछ सम्पन्न करेगा जो परमेश्वर से प्रेम करते हैं और जो अति प्रियजन हैं जिससे कि वह आप अत्यधिक महान होंगे।

Read More
30 Sep
प्रभु की सुनें!
Shilpa Dhinakaran

परमेश्वर के चरणों में बैठना, उसके वचन पढना और वह हम से बात करे उसके लिए उसकी बाट जोहना एक महत्त्वपूर्ण बात है। हर सुबह जब हम उसकी बाट जोहते हैं तब वह अपनी आशीष को हम पर उण्डेलता है।

Read More
29 Sep
परमेश्वर की प्यारी उपस्थिति
Dr. Paul Dhinakaran

आज आपको कई जिम्मेदारियां निभानी होगी परन्तु उसे पूरा करने के लिए आपको बल नहीं हैं परन्तु परमेश्वर का अभिषेक आप पर उतरेगा और आपके जीवन के मिशन को पूरा करने में बल देगा।

Read More
28 Sep
बहुतायत मात्रा की आशीष
Sis. Stella Dhinakaran

प्रभु आपको स्मरण करता है। आप परमेश्वर की आशीषें बहुतायत की मात्रा में पाएंगे।

Read More
27 Sep
आप परमेश्वर की प्रसन्नता हैं!
Sis. Evangeline Paul Dhinakaran

प्रभु ने सारी सृष्टि की रचना की है परन्तु वह अपनी प्रजा के लोगों से ही प्रसन्न होता है क्योंकि आप ने उसे स्वीकार किया है और उसके नाम पर भरोसा रखते हैं, आप उसकी अपनी संतान हैं जिससे वह प्रसन्न होता है।

Read More
26 Sep
अनन्तकाल का नाम
Dr. Paul Dhinakaran

यदि आप परमेश्वर पर भरोसा रखते हैं और उसे अपने जीवन को सौंपें हैं, उसकी इच्छा को सौंप दें तब आपको सर्वशक्तिमान परमेश्वर के द्वारा नाम दिया जाएगा। तब आप परमेश्वर की संतान कहलाएंगी।

Read More
25 Sep
प्रभु का भय मानना
Samuel Dhinakaran

प्रभु का भय मानना ही हमारे जीवन की नींव है। यह ऐसा कुछ है जो हमारे अंदर निश्चय होना चाहिए। यह यीशु में जीवन की अगुवाई करता है।

Read More
24 Sep
आप कभी भी अकेले नहीं हैं!
Stella Ramola

परमेश्वर आपको शांति देगा और आपका वह एक पिता होगा। वह आपके जीवन को पूरी तरह से नियंत्रण करेगा और आपके लिए सब कुछ करेगा।

Read More
23 Sep
परमेश्वर अपने मार्ग प्रगट करेगा
Dr. Paul Dhinakaran

परमेश्वर आपको सिखाएगा और मार्गों के द्वारा ले चलेगा, जहां पर आप परमेश्वर के अद्भुत कार्यों और चमत्कारों को देखने पाएंगे। जिस मार्ग में चलनी की उसने योजना बनाकर रखी है उसमें चलने के लिए वह आपको बुद्धि देगा।

Read More
22 Sep
परमेश्वर का पवित्र मंदिर
Sis. Stella Dhinakaran

परमेश्वर का मंदिर पवित्रता से भरपूर है। परमेश्वर आपके अंदर वास करना है तो आप खुद को पवित्र करना है। जब आप प्रभु के साथ एक मन होंगे तब वह आपको एक सुंदर व्यक्ति बनाएगा।

Read More