Loading...
14 Apr
सही समय पर उत्तम आशीष!
Shilpa Dhinakaran

प्रभु जानता है कि आपके लिए क्या उत्तम है और वह आपके लिए हर समय उत्तम करेगा।

Read More
13 Apr
जीवन के लिए एक सलाहकार
Samuel Dhinakaran

हमारे जीवन की यात्रा में हम कई उबड खाबड मार्गों में फैंक दिए जाते हैं। एक गलत मोड हम को अलग कर देगा। यह कितना अच्छा होगा जब कोई एक व्यक्ति हमें सही रास्ता दिखाने में अगुवाई करता है! आपको आश्चर्य होगा, आज परमेश्वर आपको इस व्यक्ति को दिखाना चाहता है!

Read More
12 Apr
महामारी के बीच सुरक्षा!
Dr. Paul Dhinakaran

इस संसार में, महामारियां होंगी परन्तु वे आपको किसी भी तरह से हानि नहीं पहुंचा पाएगी।

Read More
11 Apr
दृढ गढ!
Sis. Evangeline Paul Dhinakaran

परमेश्वर आप से कहता है कि वह खुद आपके लिए एक शहरपनाह और एक दृढ गढ बनेगा और वह आपको उसमें एक शहरपनाह बनने के लिए स्वागत करता है।

Read More
10 Apr
वंशीय आशीष!
Sis. Stella Dhinakaran

एक खुद के लिए और अपने परिवार की आशीष के लिए प्रार्थना करता है। उसी तरह से परमेश्वर आपको भी आशीष देना चाहता है। हालांकि क्या आप जानते हैं कि आशीषों को अपनी विरासत में लाने के लिए आपको क्या करना होता है? आज हम इसी को सीखने जा रहे हैं।

Read More
09 Apr
मसीह में बनना
Stella Ramola

परमेश्वर आपका मार्गदर्शक और शिक्षक होगा और जिस मार्ग से आपको चलना वह बताएगा।

Read More
08 Apr
परमेश्वर का भण्डार
Shilpa Dhinakaran

क्या आपने अपने बजट पर पुन: काम किया है और उसके बावजूद भी आप अपनी घटियों को पूरी करने में असमर्थ हैं? आप चिंता मत करें! आकाश और पृथ्वी का रचनेवाला आपका बेंकर है। सीखें कि आप अपनी छोटी सी छोटी जरूरत भी कैसे पूरी कर सकते हैं।

Read More
07 Apr
दीनता का सम्मान!
Samuel Dhinakaran

परमेश्वर आपको ऊंचा उठाएगा, वह आपको राजाओं और राजकुमारों के साथ बैठाएगा।

Read More
06 Apr
आनन्द और प्रतिफल
Dr. Paul Dhinakaran

क्या आपने परमेश्वर की खात्तिर अपमान और निंदा सही है? आपको मगन हो जाना चाहिए। याद रखें स्वर्ग आपको आशीष और प्रतिफल देने की बाट जोह रहा है। आज आप यह जानें कि आप प्रतिफल को विरासत में कैसे लेंगे।

Read More
05 Apr
उद्धार का दृढ गढ!
Sis. Evangeline Paul Dhinakaran

जब हम परमेश्वर पर भरोसा रखते हैं और परमेश्वर के वचन पर मनन करते हैं और हर समय परमेश्वर पर निर्भर होकर प्रार्थना करते हैं, हमारा उद्धार हमारा दृढ गढ बन जाता है।

Read More