Loading...
वह तेरे कारण आनन्द से मगन होगा, ..फिर ऊंचे स्वर से गाता हुआ तेरे कारण मगन होगा॥ (सपन्याह 3:17)