Loading...
तुम्हारी नामधराई की सन्ती दूना भाग मिलेगा। (रशाराह 61:7)