Loading...
Stella dhinakaran

धर्मी के लिए ज्योति बोई जाती है!

Sis. Stella Dhinakaran
17 Apr
मसीह में अतिप्रिय,

हम बाइबल में पढ़ते हैं कि परमेश्‍वर ने इब‘ाहीम को अपनी इच्छानुसार बुलाया और उसे धर्ममय मार्गों पर चलने में उसकी सहायता किया एवं उसकी कईं पीढ़ियाँ प्रभु के द्वारा उनके मार्गों पर चलने के लिए और आदर्श जीवन जीने के लिए तैयार की गई। उसी तरह आज हम उस परमेश्‍वर की इच्छा को जानें जो हमें बुलाता है और हमें चुनता है कि हम आदर सहित धर्ममय मार्गों में चलें। तब प्रभु अपने ईश्‍वरीय अनुग‘ह से हमारे जीवन में ज्योति के रूप में उसकी शांति एवं खुशी बहुतायत से प्रदान करेगा। 

एक परिवार का मुखिया जो पहले सरकारी नौकरी करता था और धुम‘पान करने और अन्य कईं बुरी आदतों का शिकार था। वह प्रभु के उद्धार की महानता से अनभिज्ञ था और केवल नामधारी मसीही था। एक दिन एक प्रभु के दास के संदेश के माध्यम से उसने ‘‘उद्धार की महानता’’ के विषय में सुना, जो उसके शहर में आए हुए थे। परमेश्‍वर की बुलाहट के प्रति अपना जीवन समर्पित किया और एक नये मनुष्य के रूप में धर्ममय मार्गों में चलना आरम्भ किया। किन्तु उसके रिश्तेदारों और सहकर्मियों ने उसकी भक्ति का मजाक  उड़ाना अरम्भ कर दिया। प्रभु ने उसके उत्साह को और ज्योंति के पथ पर चलते हुए देखा और उसे समस्त बुराई से मुक्त किया और आश्‍चर्यजनक रूप से उसके लिए एक उत्तम साक्षी के रूप में खड़े होने के लिए अपनी ज्योति तथा खुशी प्रदान की। इसके साथ ही परमेश्‍वर ने उसके वंश को भी यही आशीषें प्रदान किया। ‘‘धर्मी के लिये ज्योति और सीधे मन वालों के लिये आनन्द बोया जाता है’’ (भजन संहिता 97:11)
अतिप्रियों, इसी प्रकार आपको भी पीढ़ी दर पीढ़ी इन ईश्‍वरीय आशीषों को प्राप्त करने और अपने जीवन में आनन्द से आशीषित होने के लिए आपको पूरे मन से प्रभु को अपना जीवन सौंप देना चाहिए। तब वह आपको हर बुराई से मुक्त करेगा और आपके जीवन में ज्योति के रूप में उसकी शांति और खुशी प्रदान करेगा। ‘‘यदि हम अपने पापों को मान ले, तो वह हमारे पापों को क्षमा करने और हमें सब अधर्म से शुद्ध करने में विश्‍वासयोग्य और धर्मी है।’’ (1 यूहन्ना 1:9) 
Prayer:
मेरे प्रेमी उद्धारकर्त्ता! मेरे हाथों को थाम और पीढ़ी दर पीढ़ी तेरे लिए एक अच्छी साक्षी बनन के लिए उद्धार के आनन्द से भरपूर मार्गों में चलने में और भले काम करने में मेरी अगुवाई करे। प्रभु, मैं इसे मेरे जीवन में करने के लिए तेरी स्तुति करता/करती हूँ। तेरे अतुल्य नाम में मैं यह प्रार्थना माँगता/माँगती हूँ हे पिता। आमीन्!

1800 425 7755 / 044-33 999 000