Loading...
DGS Dhinakaran

विश्वास के कर्त्ता!

Bro. D.G.S Dhinakaran
13 Jun
मसीह में अतिप्रिय, 

यीशु मसीह जो विश्वास का कर्त्ता और सिद्ध करनेवाला है। बाइबल कहती है मसीह यीशु में केवल विश्वास जो प्रेम के द्वारा प्रभाव डालता है। (गलातियों 5
;6) प्रेम और करूणा यीशु मसीह से बहता है। 

हम जहाँ कहीं भी बाइबल में यीशु के बारे में पढ़ते हैं कि वह बीमारों को देखकर तरस खाया करता था और उन्हें चंगा करता था। बाइबल में एक कोढ़ी यीशु के पास आया और उसने घुटने टेककर उनसे विनती की यदि तू चाहे तो मुझे शुद्ध कर सकता है। यीशु ने उस पर तरस खाकर हाथ बढ़ाया और उसे छूकर कहा, मैं चाहता हूँ कि तू शुद्ध हो जा। (मरकुस 1:40,41) उसे चंगा किया। यीशु में जो तरस और प्रेम था उस के कारण उस में ऐसा विश्वास बलवंत हुआ। एक ही पल में यीशु ने एक चमत्कार किया। 
जैसे कि यीशु शिमौन के घर पर था। एक स्त्री वहाँ आई जो  पाप में जी रही थी। उसने यीशु के पैरों को अपने आँसुओं से भिगोए। यीशु ने उसकी ओर देखा और कहा, तुम्हारे पाप क्षमा हुए...तेरे विश्वास ने तुझे बचा लिया है, कुशल से चली जा। हाँ, जब यीशु ने उसे देखा कि वह पाप को झेल रही है, वह तरस से भर गया। उसके अन्दर उसके जीवन को जिलाने का विश्वास से उसके जीवन परिवर्तन के लिए जाग उठा और उसका उद्धार किया। (लूका 7:38, 39, 49, 50)

प्रियजन, हमारे प्रभु यीशु अति करूणामयी और दयालु है। अतः आओ हम उसकी करूणा और दया पर विश्वास करें और उससे मांगे, हे प्रभु मेरे हृदय में एक ऐसा विश्वास दें। तब वह निश्चय ही उस दृढ विश्वास को हमें देगा जो कभी भी नहीं हिलता। ‘‘विश्वास के कर्त्ता और सिद्ध करनेवाले यीशु की ओर ताकते रहें।’’ ((इब्रानियों 12:2)  
Prayer:
हे प्रभु, आप अति करूणामयी और दयालु है। मुझे आपकी करूणा और दया पर विश्वास करने में मेरी मदद कर। मेरे हृदय में दृढ विश्वास उत्पन्न कर। मेरे पापों को क्षमा कर। मेरा उद्धार कर। मैं यीशु मसीह के नाम में यह मांगता/मांगती हूँ। आमीन् ! 

1800 425 7755 / 044-33 999 000